भोला मस्त मलंग लिरिक्स – हंसराज रघुवंशी

शिव जी का मनमोहक भजन भोला मस्त मलंग लिरिक्स लिंक लाया हूँ जिसके गायक हंसराज रघुवंशी और है। म्यूजिक अदम्य शर्मा की है और भोला मस्त मलंग भजन के लेखक हंसराज रघुवंशी और सुरेश वर्मा है।

भोला मस्त मलंग लिरिक्स

महलो की रानी राजकुमारी
क्यूँ बंध गयी तेरे संग
तू भोला मस्त मलंग
भोला मस्त मलंग
भोला मस्त मलंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
तेरा भोला मस्त मलंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
युगो-युगो से तेरी मेरी कहानी
तू मेरा दीवाना मैं तेरी दीवानी
क्यूँ ना रंगू मैं तेरे रंग
तू भोला मस्त मलंग
भोला मस्त मलंग

गौरा ने बीज लई हरी-हरी महंदी
मेरे भोले ने बीज लई भंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
तू पीवे भोला भंग धतूरा
संग तूने बिठाया झुण्ड भूतों का पूरा
वो हो गयी रे यूं तंग
तू भोला मस्त मलंग
भोला मस्त मलंग
गौरा दी उग गयी हरी-हरी मेहंदी

मेरे भोले दी उग गयी भंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
सबको तू देवे महल बनारे
मुझको बिठाया कैलाशों के किनारे
जाने ना दिल की तू उमंग
भोला मस्त मलंग…..

गौरा ने तोड़ लई हरी हरी मेहंदी
मेरे भोले ने तोड़ लई भंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
मैं ओडु- भोले सालो दो साले
तू ओड़े भोले मृग की छाले
मुझको ना भावे तेरा ढंग
तू भोला, मस्त मलंग
भोला मस्त मलंग……

भजन डाउनलोड करे

आशा है आपको भोला मस्त मलंग लिरिक्स पसंद आया हो अगर आपको लिरिक्स पसंद आयी तो कमेंट करके जरूर बताय और हमारी वेबसाइट नोटिफिकेशन ऑन कर ले ताकि जब भी हम आपके लिए हिंदी भजन लिरिक्स प्रस्तुत करे आप तक पहुंच सके। हम आपके लिए ऐसे ही सुन्दर सुन्दर भजन के बोल लाते रहेंगे। अगर आप भजन डाउनलोड करना चाहते है तो आप हमारी bhajanmp3download.com वेबसाइट में विजिट करे।

वीडियो देखे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *